मोदी जी की नीयत साफ है…

जब राज की नीयत शुद्ध हो तो प्रकृति भी सहयोग करती है। वरना बंगाल में आज भी मानव बल से साइकिल रिक्शा चल रहा है और सड़कों पर दम तोड़ने की घटनाएं भी केवल वहीँ बची है।