लव जिहाद कितना बड़ा षड्यंत्र…

बच्चे सावधान!!
जो मोबाइल रखते हैं और सोशल मीडिया पर सर्फ़ करते हैं।
ये भारत की होनहार और उभरती कराटे प्लेयर पामेला अधिकारी थी। अब वो इस संसार में नहीं है। सिर्फ 14 साल की अबोध आयु में उसने आत्महत्या कर लिया। उसकी इसी अबोध उम्र में उसके साथ कुछ ऐसा घटित हुआ जिसकी कीमत उसे अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।
पामेला हावड़ा पश्चिम बंगाल में पैदा हुई। अभी आठवीं क्लास में पढ रही थी। लेकिन एक आधुनिक परिवार में जन्मी पामेला को कराटे खेलने का शौक था। उसने राष्ट्रीय स्तर की कुछ प्रतियोगिताओं में भी हिस्सा लिया था। जब वह कक्षा छ में पढती थी तभी उसने कुछ सोशल मीडिया पर अपना एकाउंट बना लिया। टिक टॉक या ऐसे ही शार्ट वीडियो प्लेटफार्म पर उसने अपने वीडियो अपलोड करने शुरु कर दिये।
इसी दौरान उसे सन्नी खान नामक एक नौजवान ने संपर्क किया। सन्नी उम्र में उससे काफी बड़ा था और उसने पामेला को मॉडलिंग का लालच दिया। 12-13 साल की लड़की को क्या समझ कि मॉडलिंग क्या होती है। लेकिन हाथ में आये स्मार्टफोन और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर मिलते लाइक कमेन्ट ने उसे इतना समझदार बना दिया था कि पामेला सन्नी खान के करीब पहुंच गयी। मॉडलिंग के नाम पर सन्नी ने पामेला के आपत्तिजनक फोटो शूट कर लिये। आगे उसने पामेला का क्या शोषण किया ये राज तो अब पामेला के साथ ही चला गया लेकिन उन्हीं फोटो की बदौलत सन्नी उसे ब्लैकमेल करने लगा। इस बीच सन्नी खान का निकाह हो गया फिर भी उसने पामेला का ब्लैकमेल बंद नहीं किया।
इस ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर पामेला ने आखिरकार 5 जुलाई को आत्महत्या कर लिया। उस अबोध ने अपने सुसाइड नोट में सन्नी खान के ब्लैकमेलिंग का उल्लेख भी किया है और ये भी लिखा है कि वह समाज में किसी को मुंह दिखाने के लायक नहीं है। बेटी की आत्महत्या के बाद बाप को अभी तक समझ नहीं आ रहा कि आखिर उसके साथ ऐसा क्या हो गया कि उसे ये कदम उठाना पड़ा। बाप को यही लगता रहा कि बेटी पढने में ठीक है और कराटे खेलने में व्यस्त है। इसलिए वो अपनी बेटी की तरफ से निश्चिंत थे। लेकिन आधुनिक युग में जब बच्चों के हाथ में सारी आधुनिक तकनीकि का रजिया मौजूद हो तब कहां किसी को कानो कान भनक लगती है कि उनके घर के बच्चे क्या कर रहे हैं?
बहरहाल, पामेला के मामले में पुलिस ने सन्नी खान के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है और सन्नी खान फरार है।

Leave a Comment